जिलाधिकारी के कुर्की के आदेश को लेकर सपा ने मोर्चा खोल दिया है

 Public Live Media संवाददाता, औरेया युवजन सभा के जिलाध्यक्ष व जिला पंचायत सदस्य धर्मेंद्र यादव की जिलाधिकारी के कुर्की के आदेश को लेकर सपा ने मोर्चा खोल दिया है। जिलाध्यक्ष ने कहा कि धर्मेंद्र यादव के जेल में रहने के बावजूद एक तरफा जीत से भाजपाई बौखलाए हुए हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि सांसद और राज्यमंत्री के इशारे पर धर्मेंद्र के खिलाफ उत्पीड़नात्मक कार्रवाई की जा रही है। सपा मुखिया का आदेश मिलते ही कार्यकर्ता जेल भरने से नहीं चूकेंगे।

मंगलवार को समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष RAJVEER YADAV ने कहा कि जिला

पंचायत की 23 सीटों में सबसे जेल में रहते हुए सबसे बड़ी जीत धर्मेंद्र यादव ने दर्ज की थी। धर्मेंद्र यादव को अपने पाले में लाने के लिए ऐड़ी से चोटी तक का प्रयास भाजपा के नेताओं के द्वारा किया गया, लेकिन ऐसा न होने पर उसका उत्पीड़न शुरू कर दिया गया। धर्मेंद्र के दो भाई फौज में हैं। देश की सेवा कर रहे हैं। ऐसे में उनके माता और पिता की संपत्ति में उनका भी अधिकार है। उनकी संपत्ति कुर्क करना प्रशासन की मंशा पर सवाल खड़ा कर रहा है।

प्रदीप यादव ने कहा कि जिला पंचायत के चुनाव में सपा के 13 सदस्य जीते थे, जबकि भाजपा

वार्ता के दौरान जानकारी देते समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष RAJVEER YADAV व समाजवादी पार्टी कार्यकर्ता Public Live Media

के पांच सदस्य जीते थे। बसपा के चार सदस्य जीते थे। भाजपा का जिला पंचायत अध्यक्ष बनना साबित करता है कि कि स तरह प्रशासन ने तानाशाही रवैया अपनाया है। इस

मौके पर पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष मो. इरशाद, जिला उपाध्यक्ष अवधेश भदौरिया, अशोक गुप्ता, अखिलेश सक्सेना, ओम प्रकाश ओझा आदि लोग मौजूद रहे।

Leave a Comment